“हनुमान जयंती”

लक्ष्मण को शक्ति लगने के बाद जब महावीर हनुमान संजीवनी बूँटी लेने जाते हैं, तो रास्ते में सूर्य से बात करते हुए जाते हैं ।उनसे विनती करते हैं कि- हे सूरज इतना याद रहे, संकट एक सूरजवंश पर है। लंका के नीच राहू द्वारा आघात दिनेश अंश पर है।। (और विनम्र होके कहते हैं….) इसलिए…

Read More